सावन के 5 सदाबहार गीत

अब सावन का क्या कहें। जैसा मुड वैसा सावन। मुड अच्छा तो मन कालिदास हो जाता है। काले घनघोर बादल मेघदूत बन जाते हैं। लोग बादलों के जरिए अपनी प्रिये तक संदेश भेजने की कल्पना करने लगते हैं। हालांकि, अब मेघदूतों की जरूरत कहां। बढ़िया इंटरनेट कनेक्टिविटी हो तो मोबाइल मेघदूतों से कहीं आगे की चीज है। बंदा या बंदी तुरंत ऑनलाइन हाजिर हो जाते हैं। और इस कड़ी में साथ देते है कुछ बेहद ही खूबसूरत गीत|

पेश है  5 ऐसे ही सदाबहार नगमें  :

  • Song: Rimjhim Gire Sawan Sulag Sulag Jaaye Mann
  • Movie – Manzil (1979)
  • Singer – Kishore Kumar

पहले भी यूँ तो बरसे थे बादल,

पहले भी यूँ तो भीगा था आंचलअब के बरस क्यूँ सजन,

सुलग सुलग जाए मनभीगे आज इस मौसम में,

लगी कैसी ये अगनरिम-झिम गिरे सावन …

  • Song – Rimjhim Ke Geet Saawan Gaaye
  • Movie – Anjaana (1969)
  • Singer – Mohd.Rafi, Lata Mangeshkar

तेरा मेरा पूछे नाता

बड़ी वो ये घटा घंघोर है

चुप हूँ ऐसे में कह दो कैसे

मेरा साजन नहीं तू कोई और है

के तेरा नाम, होंठों पे मेरे, तेरे…  सपने मेरी आँखों में

  •  Song – Sawan Ka Mahina Pawan Kare Shor
  • Movie – MILAN (1967)
  • Singer – MUKESH, LATA MANGESHKAR

हां, जियरा रे झूमे ऐसे, जैसे बनमा नाचे मोर

हो सावन का महीना …

मौजवा करे क्या जाने, हमको इशारा

जाना कहाँ है पूछे, नदिया की धारा

मरज़ी है तुम्हारी, ले जाओ जिस ओर

जियरा रे झूमे ऐसे …

  • Song – Saawan Ke Jhoolon Ne
  • Movie – Nigahen (1989)
  • Singer – Mohammad Aziz

सावन के झूले पड़े
तुम चले आओ
आँचल न छोड़े मेरा, पागल हुई है पवन
अब क्या करूं मैं जतन, धड़के जिया जैसे, पंछी उड़े
सावन के झूले पड़े…

  • Song –Ab Ke Sawan Mein Jee Dare
  • Movie – Jaise Ko Taisa (1973)
  • Singer – Kishore Kumar, Lata Mangeshkar

(ऐसा मौसम पहले कभी भी आया नहीं
ऐसा बादल अम्बर पे पहले छाया नहीं) -२
ओ, ये सुहाना शमा, प्रेम की खोज में मौज में
ओहो, पागल प्रेमी बन के फिरे
रिमझिम तन पे पानी गिरे
मन में लगे आग सी

 

 

 

Anubha Rani

I'm an avid reader, a foodie, and a movie buff; who is passionate about the positivity around us. I love to dream and convert those dreams into words. At one moment I'm inside a shell and the very next moment I'm the ferocious one. Dynamism is my forte. Apart from being a dreamer, I'm also a woman with a beating heart and a curious mind questioning traditional social norms. I'm a rebel at one moment and just opposite at the very next moment. My fuel is the smile of my son, the happiness of my family, and lots of coffee. I'm also not ashamed of spending money on buying books and to fill my (always empty) stomach.

Leave a Reply