पटना शहर में बाइक टैक्सी की शुरुआत

अगर आप अकेले हैं और जल्दी कहीं पहुंचना चाहते हैं, तो आपके लिए सस्ती और सुरक्षित सवारी के रूप में बाइक टैक्सी अब आपको उपलब्ध होगी। शहर में ऑटो, टेंपो, और ई-रिक्शा की भरमार है और इन से जाम की समस्या गहरी हो गई है। इस से निजात पाने के लिए संभागीय परिवहन प्राधिकरण और निजी कंपनियों ने सस्ते और आसान सफर की पहल की है। कार के साथ साथ अब पटना के लोग “बाइक टैक्सी” की भी सुविधा उठा पायंगे| Bike Taxi

पटनावासियो की सुविधा के लिए परिवहन विभाग बाइक टैक्सी के लिए परमिट देने जा रही है| राष्ट्रीय स्तर की तीन बड़ी कंपनियां, रैपिडो, ओला और उबर बाइक टैक्सी चलाने के लिए सामने आयी हैं| परिवहन सचिव, संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि बाइक टैक्सी की शुरुवात एक मार्च को मुख्यमंत्री करेंगे। साथ ही साथ उन्होंने कहा कि दिल्ली और मुंबई जैसे महानगरों की तर्ज़ पर पटना में भी बाइक टैक्सी की सेवा शुरू की जा रही है, आने वाले दिनों में ये अन्य शहरों में भी की जाएगी।

कुछ दिनों के बाद महिलाएं भी बाइक टैक्सी के क्षेत्र में आएंगी। बाइक टैक्सी की सेवा लेने वाले की 50 हजार की इंश्योरेंस होगी। बाइक टैक्सी के लिए तीनों कंपनियों का अलग-अलग किराया है।

क्या होगा किराया

अन्य तीनों कम्पनियों के तुलना में रैपिडो का किराया अभी तक सबसे कम है| रैपिडो बाइक टैक्सी का बेस किराया 15 रुपए और प्रति किलोमीटर 3 रुपए है| इसके साथ ही प्रत्येक मिनट रनिंग टाइम का 50 पैसा लगेगा। बाइक टैक्सी बुक करने के 10 मिनट के अंदर आपके पास पहुंच जाएगी। इसकी सेवा लेने वाले व्यक्ति की दुर्घटना हो जाने पर 50 हजार रुपया इंश्योरेंस और मृत्यु होने पर 5 लाख रुपये का इंश्योरेंस रहेगा।

युवाओं के लिए पार्ट/ फुल टाइम रोजगार का मौका Bike Taxi

बाइक टैक्सी से बेरोज़गार युवाओं और कॉलेज स्टूडेंट को रोज़गार का मौका मिलेगा| हालांकि अभी किसी कंपनी ने सैलरी कितनी होगी ये बात नही कही है| वहीँ राज्य परिवहन आयुक्त, सीमा त्रिपाठी ने बताया कि बाइक टैक्सी की सुविधा प्वाइंट-टू-प्वाइंट मिलेगी। बाइक टैक्सी चलाने वाले कोई भी हो सकते हैं, जिनके पास मोटर साइकिल, वैध ड्राइविंग लाइसेंस, और एक एड्रेस प्रूफ हो।

आशा करते हैं की ओला और उबर की टैक्सी सर्विस की तरह ही ये बाइक टैक्सी सर्विसे भी पटना वासियों में लोकप्रिय होगा और उन्हें ट्रैफिक जाम में रहने से मुक्ति दिलाते हुए एक नए परिवहन की सुविधा मिलेगी|

Rohit Jha

A writer who is willing to produce a work of art, To note, To pin down, To build up, To make something, To make a great flower out of life even if it's a cactus.

Leave a Reply